Uncategorized

अभिभावकों की उदासीनता के कारण बेसिक शिक्षा है प्रभावित

अभिभावकों की उदासीनता के कारण बेसिक शिक्षा है प्रभावित

अधिकारी भी है शिक्षा के प्रति उदासीन निभा रहे औपचारिकता.
जालौन जनपद के विकासखण्ड नदीगाव के गांवो मे बेसिक शिक्षा की हालत बद से बदतर होती जा रही है !जिसके लिये शिक्षा विभाग तो उत्तरदायी है ही उससे कही अधिक अभिभावक भी है जो अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन नही करते यानि बच्चो को समय से विद्यालय नही भेजते ! जब हमारी हिन्दुस्तान न्यूज 24 की टीम ने नदीगाव विकासखण्ड के आंशिक विद्यालयो मे जाकर स्थिति को परखना चाहा तो देखा भेड के पूर्व माध्यमिक विद्यालय व कन्या प्राथमिक मे शिक्षक तो है पर बच्चे नही है भी तो आंशिक यानि अपेक्षा के अनुरूप नही ! विद्यालयो मे साफ सफाई ,रंगाई पुताई से लेकर सभी व्यवस्थाये ठीक है पर संख्या का अभाव देखने को मिला !सभी शिक्षक/शिक्षिकाओ का एक साथ बैठकर आपसी वार्तालाप करना कक्षाओं का खाली पडा रहना भी बताता है कि शिक्षक शिक्षा देने मे अपनी रूचि नही रखते केवल औपचारिकता निभाते है !प्रधानाध्यापक राजेन्द्र भारद्वाज का कहना था कि शिक्षक और अभिभावक दोनो ही अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करे तो व्यवस्था अच्छी हो सकती है ! खण्डशिक्षाधिकारी भी नौकरी मे औपचारिकता निभा रहे है ऐसा ग्रामीणों का कहना है !
कोंच से राजकुमार दोहरेट्, अनिल नीखरा, 6393458257

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *