[t4b-ticker]
उत्तरप्रदेश कालपी जालौन

भा0कि0यू0ने उपजिलाधिकारी को सौंपा सात सूत्रीय ज्ञापन।

संपादक – संतोष कुमार निरंजन

कालपी (जालौन) भारतीय किसान यूनियन के द्वारा कृषि क़ानून के विरोध मे चल रहे आंदोलन को लेकर शनिवार को कालपी मे कड़ी सुरक्षा व्यवस्था रही। मान सिंह उकासा के नेतृत्व मे विभिन्न समस्याओ को लेकर तहसीलदार को ज्ञापन सौपा गया।

शनिवार को आसपास के ग्रामो के किसान तहसील परिसर मे एकत्रित हो गये। चबूतरे मे बैठकर किसानो ने पंचायत करके आगामी रणनीति तैयार करके तय किया कि आंदोलन मे भागीदारी के लिये जनपद के किसान गाज़ीपुर बॉर्डर पहुंचेंगे। संगठन के तहसील अध्यक्ष राजू सिंह मल्थुआ ने कहा कि देश के किसानो के आर्थिक स्थित की चिंता किये बगैर पूजीयतिमा के हित मे किसान विरोधी कानूनों को बना दिया है तथा किसानो की हितो की अनदेखी की जा रही है।

बाद मे किसानो के प्रतिनिधि मंडल ने तहसीलदार शशिविद द्विवेदी को सात सूत्रीय मांगो का ज्ञापन सोपते हुये अवगत कराया कि तीन कृषि बिलो को सरकार के द्वारा वापिस लिया जाये। एम. एस. पी. को कानूनी अधिकार बनाया जाये बिजली की बड़ी हुई दरों को वापिस लिया जाये। आंदोलनरत किसानो पर दर्ज़ मुक़दमे वापिस लिये जाये पराली जलाने के नाम पर किसानो पर सजा जुर्माने के प्राविधानों को वापिस लिया जाये। कृषि कार्यों के लिये किसानो को आधे दामों मे डीजल उपलब्ध कराया जाये। अन्ना जानवरो से खेती को बचाने के लिये उचित प्रबंध किये जाये। इस मौके पर जितेंद्र सिंह सतहरजू, अमित द्विवेदी उकासा, चंद्र पाल गुर्जर धामनी, देवकरन सिंह, लोहर गांव, वीर सिंह बाबा, मान सिंह, वीर सिंह खैरई, महेश लमसर, श्याम बाबू पाल, नरेंद्र बरही, राजेंद्र पाल उरकरा, देव प्रयाग उसरगांव समेत दर्ज़नो कृषक मौजूद रहे।

किसानो के कार्यक्रम को लेकर सी. ओ. राजीव प्रताप सिंह, कोतवाली प्रभारी निरीक्षक, आर. के. सिंह, चुर्खी थाना प्रभारी निरीक्षक मनोज मिश्रा, इंस्पेक्टर क्राइम उमाकांत ओझा समेत भारी पुलिस बल जगह -जगह तैनात रहे। खुफिया तंत्र भी दिन भर सक्रिय रहे।

Related posts

50 फीसदी भी नही हो सका नाला सफाई का कार्य, वरसात में कई मुहल्ले डूबने की आशंका।

aajtakmedia

युवा पत्रकार सद्दाम हुसैन ने खून दान कर बचाई पत्रकार की माँ की जान।

aajtakmedia

नवनियुक्त परशुराम सेना के जिलाध्यक्ष ने गरीबों को वितरित की कोरोना किट।

aajtakmedia

Leave a Comment