[t4b-ticker]
उत्तरप्रदेश उरई जालौन

जिलाधिकारी डॉ मन्नान अख्तर ने हेल्थ वेलनेस सेन्टरों की प्रगति समीक्षा बैठक की।

संपादक – संतोष कुमार निरंजन

उरई (जालौन)  08 फरवरी 2021
जिलाधिकारी डा0 मन्नान अख्तर की अध्यक्षता में हेल्थ वेलनेस सेन्टर प्रगति समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई। बैठक में हेल्थ वेलनेस सेन्टर उपकेन्द्रों की ब्राडिंग एवं कक्ष निर्माण की जानकारी की जिस पर डॉ0 धीरेन्द्र ने बताया कि जनपद जालौन में वर्ष 2018-19 में आर0ई0डी0 ऐजेन्सी के द्वारा ब्लाक डकोर में गढ़र उपकेन्द्र में सी0एच0ओ0 कक्ष का निर्माण अभी शुरू नही हुआ है तथा मिनौरा कालपी एवं मड़ोरा उपकेन्द्र में सी0एच0ओ0 कक्ष का निर्माण कार्य पूर्ण हैं, ब्लाक कोंच के बिलाया, पनयारा, अण्डा, अमीटा, पचीपुरी, पचीपुरा, भदेवरा में कार्य पूर्ण हो गया है तथा एट एवं बड़ागांव में सी0एच0ओ0 कक्ष हेतु भूमि अभी उपलब्ध नही हैं। ब्लाक महेवा में नसीरपुर, अटरकला, मुसमरिया, निपनियां, सरसेला, पिथउपुर, मड़ईया में कक्ष का निर्माण पूर्ण हो गया है तथा देवकली, सिम्हारा कासिमपुर में कक्ष हेतु भूमि उपलब्ध नही हैं। ब्लाक जालौन में उपकेन्द्र सिहारी दाउदपुर, ऐदलपुर, कुसमरा, गधेंला, गड़गुवां, सहाब, खर्रा, धन्तौली तथा धनौराकलां में कक्ष का निर्माण पूर्ण कर लिया गया हैं। ब्लाक कदौरा में वर्ष 2019-20 में छौंक, चमारी, पिपराया, इटौरा, करमचन्द्रपुर, कुरहेना में कक्ष हेतु निर्माण कार्य शुरू नही हुआ हैं। ब्लाक नदीगांव में उपकेन्द्र लोहाई, महेशपुरा, बसीठ, अकनीबा, जगनपुरा, खकसीस, तीतरा में कक्ष हेतु निर्माण कार्य शुरू नही हुआ है तथा धन्जा में निर्माण कार्य पूर्ण छपाई कार्य अवशेष है एवं क्योलारी में लेन्टर तक का कार्य पूर्ण हैं। ब्लाक माधौगढ़ में उपकेन्द्रअमखेड़ा, अटागांव, जैतपुरा, कैलोर, महाराजपुरा, रूद्रपुरा, सूपा, सुल्तानपुरा, सुरावली में कक्ष हेतु निर्माण कार्य शुरू नही हुआ हैं तथा विजदुआ में दिवार तक कार्य पूर्ण, डिकोली में फाउण्डेशन तक कार्य पूर्ण, कुरसेण्डा में पिलर तक कार्य पूर्ण, अकबरपुरा में दिवार तक कार्य पूर्ण, मिझौना तथा गोरा भुपका में फाउण्डेशन तक कार्य पूर्ण हुआ हैं। उन्होने बताया कि यूपी सिडको द्वारा ब्लाक डकोर में वर्ष 2019-20 में उपकेन्द्र बरसार, कुरकुरू में दिवार तक कार्य पूर्ण हैं। ब्लाक रामपुरा में उपकेन्द्र मिर्जापुर, निनवाली जागीर तथा कुठौन्द ब्लाक के बावली, रोमई मुस्तकिल, कुरेपुरा कनाल में छत तक का कार्य पूर्ण कर लिया गया हैं तथा शेष कार्य शीघ्र पूर्ण कर लिये जायेगे। उन्होने कार्य आधारित प्रोत्साहन राशि के अन्तर्गत आशाओं के भुगतान की भी जानकारी की जिस पर बताया गया कि भुगतान कार्य किया जा रहा है। जिलाधिकारी महोदय द्वारा हेल्थ वेलनेस सेन्टर अन्य गतिविधियों व्यय विवरण की भी समीक्षा की जिस पर संबंधित द्वारा विस्तार से बताया गया। उन्होने बताया कि वित्तीय वर्ष 2018-19 में प्रस्तावित 30 सेन्टरों में हुई ब्राडिंग, 25 सी0एच0ओ0 कक्ष निर्माण कार्य पूर्ण होने के उपरान्त ग्रामीण अभियन्त्रण विभाग द्वारा 19 सी0एच0ओ0 कक्ष विभाग को हस्तान्तरित किये जाने की पत्रावली प्रस्तुत की गई है अवशेष 06 सी0एच0ओ0 कक्षों एवं 30 उपकेन्द्रों की ब्राडिंग कार्य उपरान्त विभाग को हस्तान्तरित किये जाने हेतु आपेक्षित हैं। उन्होने बताया कि वित्तीय वर्ष 2019-20 में आवंटित 30 सेन्टरों की ब्रांडिंग कार्य पूर्ण होने उपरान्त ग्रामीण अभियन्त्रण विभाग द्वारा विभाग को हस्तान्तरित किये जाने हेतु आपेक्षित हैं तथा आवंटित 20 सेन्टरों की ब्रांडिंग एवं 5 सी0एच0ओ0 कार्य पूर्ण होने उपरान्त यूपी सिडको द्वारा विभाग को हस्तान्तरित की पत्रावली प्रस्तुत कर दी गई हैं एवं ग्रामीण अभियन्त्रण विभाग को आवंटित 30 उपकेन्द्रों एवं यूपी सिडको को आवंटित 20 उपकेन्द्रों के सापेक्ष अवशेष 15 उपकेन्द्रों में सी0एच0ओ0 कक्ष तैयार कर मार्च 2021 तक विभाग को हस्तान्तरित किये जाने हेतु आपेक्षित। उन्होने यह भी बताया कि वित्तीय वर्ष 2020-21 में आवंटित 85 उपकेन्द्रों में ब्रांडिंग व सी0एच0ओ0 कक्ष निर्माण कार्य विभाग द्वारा कराये जाने की अनुमति उपरान्त उपकेन्द्रों में ब्रांडिंग व सी0एच0ओ0 कक्ष निर्माण कार्य अवशेष हैं। जिलाधिकारी महोदय ने बैठक में सभी उपस्थित चिकित्सा अधिकारियों को निर्देशित किया कि जो भी कार्य पूर्ण कर लिये गये है तथा अवशेष कार्यो को शीघ्र पूर्ण किये जाये।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डा0 अभय कुमार श्रीवास्तव, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 ऊषा सिंह, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 सत्यप्रकाश, अधिशाषी अभियन्ता ग्रामीण अभियन्त्रण सेवा बहाजुद्दीन सहित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के चिकित्सा अधिकारी मौजूद रहे।

Related posts

उपचार कराने आये वृद्ध रोगी की चौराहे पर हुई आकस्मिक मौत।

aajtakmedia

आर्थिक तंगी के चलते युवा मजदूर ने की आत्म हत्या हुई मौत।

aajtakmedia

आयुर्वेदिक अस्पताल की अव्यवस्था के लिए आखिर कौन जिम्मेदार?

aajtakmedia

Leave a Comment