[t4b-ticker]
उत्तरप्रदेश कालपी जालौन

किसान बिल के विरोध मे किसानो ने रेल रोकने का किया प्रयास।

संपादक – संतोष कुमार निरंजन

प्रशासन के सख्त रवैये के चलते रेलवे स्टेशन के बाहर रोका गया किसानो को।

कालपी (जालौन) गुरुवार को कृषि कानूनों का विरोध का कालपी मे असर दिखाई दिया। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय आव्हान पर कालपी रेलवे स्टेशन मे किसानो ने प्रदर्शन करते हुये रेल रोको आंदोलन मे हिस्सा लिया।

विदित हो कि केंद्र सरकार द्वारा लागू किये गये तीन कृषि विधेयकों के विरोध मे करीब तीन माह से किसानो के द्वारा दिल्ली बॉर्डर मे आंदोलन चलाया जा रहा है। आंदोलन के दौरान केंद्रीय नेतृत्व के द्वारा 18 फरवरी को रेल रोको आंदोलन करने का निर्णय लिया गया था। दिल्ली बॉर्डर से वापिस लौटे भारतीय किसान यूनियन के तहसील अध्यक्ष अजय पाल सिंह चौहान उर्फ़ राजू मल्थुआ के नेतृत्व मे इलाकाई किसान इकट्ठा हो गये तथा केंद्र सरकार तथा कृषि कानूनों के विरोध मे नारे लगाकर प्रदर्शन करने लगे। प्रदर्शन मे प्रमुख रूप से देव करण सिंह चौहान, ब्लॉक अध्यक्ष कदौरा सुरेश सिंह, श्याम बाबू पाल, राजू बाथम, रफीक खान, वीर सिंह बाबा, अमित द्विवेदी उकासा, तुला राम, श्याम बिहारी, मथुरी रघवीर सिंह, विश्वनाथ सिंह, राजा बाबू सिंह, उदय प्रकाश, गोविन्द, मान सिंह आदि पचासो किसान मौजूद रहे।

सुरक्षा के दृष्टिकोण से सी. ओ. राजीव प्रताप सिंह, कोतवाल आर. के. सिंह, एडिशनल इंस्पेक्टर क्राइम उमाकांत ओझा, रामगंज चौकी इंचार्ज राम विनोद के अलावा झाँसी व ललितपुर से भी भारी संख्या मे पुलिस फाॅर्स, जी. आर. पी. के जवान तैनात रहे तथा खुफिया विभाग के कर्मचारी दिन भर सतर्क रहे।

Related posts

नदीगांव ब्लॉक के लिपिक की शिकायत एस डी एम से की गई।

aajtakmedia

डीएम ने ब्लाक नदीगांव व कोंच में वैक्सीनेशन गति पर जताई नाराजगी।

aajtakmedia

आर्यावर्त बैंक ने असहाय तथा निर्धनों को बाटें कम्बल।

aajtakmedia

Leave a Comment