[t4b-ticker]
उत्तरप्रदेश उरई जालौन

उरई कोतवाली पुलिस और सर्विलांस टीम ने एक करोड़ रुपये की चोरी का किया पर्दाफाश, आई जी ने दिया पचास हजार रुपये का ईनाम।

संपादक – संतोष कुमार निरंजन

 

उरई (जालौन) उप प्रभागीय वन अधिकारी के यहां हुई 1 करोड़ से अधिक की चोरी का खुलासा जालौन की एसओजी, सर्विलांस और उरई कोतवाली पुलिस ने संयुक्त रूप से कर दिया है। पुलिस ने इस कांड में शामिल 4 आरोपियों को चोरी किये गये करोड़ो रूपये के समान के साथ गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गये सभी आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करते हुये पुलिस ने उन्हें जेल भेज दिया।
मामले का खुलासा करते हुए जालौन के पुलिस अधीक्षक डॉ यशवीर सिंह ने बताया कि 29 जनवरी को उप प्रभागीय वन अधिकारी जगदेव सिंह के उरई स्थित नया पटेल नगर से कोतवाली में चोरी की एफआईआर दर्ज कराई थी, जिसमें उन्होंने बताया था कि ज्वेलरी और नगदी सहित एक करोड़ से अधिक की नगदी चोरी हुई है, जिसकी रिपोर्ट राज बहादुर सिंह, उसकी पत्नी रेखा और पुत्र हर्ष पर दर्ज कराई थी, जो जगदेव सिंह के मकान में किराये पर रह रहे थे। मामला दर्ज होने के बाद शिव सिटी संतोष कुमार के नेतृत्व में एसओजी सर्व लाइंस और उरई कोतवाली पुलिस को खुलासे के लिए लगाया था जिस टीम ने कड़ी मशक्कत करते हुये इस चोरी में शामिल, हर्ष, रोहित, राजबहादुर और आशीष सोनी को गिरफ्तार किया है। इनको इस टीम ने शहर के कांशीराम कॉलोनी के पास से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने हर्ष और राजबहादुर की निशान देही पर आशीष के पास से चोरी का 931.630 ग्राम सोना, 490.500 ग्राम चांदी बरामद की है। इसके अलावा पुलिस में 56 लाख 49 हजार 5 सौ रुपये की नगदी बजी आरोपियों के पास से बरामद की है।
एसपी ने बताया कि जिनके घर में चोरी हुई है वह है ललितपुर में उप प्रभागीय वन अधिकारी के पद पर तैनात हैं और वह शादी समारोह से लौट कर घर आए हुए थे तथा सोना चांदी जेवरात आदि घर पर रखकर नौकरी करने चले गए थे, इसी का फायदा हर्ष और राजबहादुर ने उठाया और अपने साथी के साथ मिलकर करोड़ों रुपए के जेवरात नकदी चोरी कर ले गए। जिन्होंने अपने साथियों के साथ मिलकर धीरे-धीरे बेचना शुरू कर दिया था, जिससे एक शिफ्ट गाड़ी खरीदी थी, जिसको भी पुलिस ने बरामद कर लिया है। पकड़े गए आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए ने जेल भेजा जा रहा है वही खुलासा करने वाली टीम को 50 हजार का पुरस्कार आईजी की तरफ से दिया जा रहा है।

Related posts

अपर जिलाधिकारी ने पाँच व्यक्तियों को किया जिलाबदर।

aajtakmedia

बड़ी खवर- महिला ने फांसी पर झूलकर की अपनी जीवन लीला समाप्त।

aajtakmedia

सेठ बद्री प्रसाद महाविद्यालय के प्रबंधक आशुतोष हूँका ने एक गाय और बछड़े को लिया गोद।

aajtakmedia

Leave a Comment