[t4b-ticker]
उत्तरप्रदेश कालपी जालौन

नकली पेय पदार्थो का धंधा जोरो पर, बीमारी बढ़ने की आशंका।

 

कालपी (जालौन) गर्मी के मौसम की दस्तक होते ही कालपी नगर तथा आसपास के क्षेत्रो मे नकली एवं अखाद्य वस्तुओ से मिश्रित पेय पदार्थो की विक्री ने जोर पकड़ लिया है। वहीं थोक कारोवारियों के प्रतिष्ठानों मे भारी मात्रा मे नकली पेय पदार्थो का भण्डारण हो गया है।

मालूम हो कि अंतर्राष्ट्रीय एवं राष्ट्रीय कंपनियों के द्वारा उत्पादित पेय पदार्थो के अलग अलग स्थानों मे तीन डीलर है। नामी गिरामी प्रोडक्ट से मिलते जुलते नाम से नकली पेय पदार्थों की बोतले तथा मिनिरल वाटर जगह – जगह विक रहे है। चिकित्सक डॉ सुंदर सिंह बताते है कि अखाद्य वस्तुओ से मिश्रित बने पेय पदार्थो मानव शरीर के लिये घातक होते है। नकली पेय पदार्थो के सेवन से लीवर हृदय तथा गले की बीमारिया उत्पन्न होती है।

इनसेट

खोवा मंडी बना कारोवारियों का थोक अड्डा

नगर के मुख्य बाजार टरननगंज के कई स्थानों मे नकली तथा अखाद्य वस्तुओ से मिश्रित पेय पदार्थो की थोक दुकाने है। कई कारोबारी मौसम के हिसाब से चोला बदल लेते है। सर्दियों मे उर्वरक एवं खाद्य विक्री करते है जबकि गर्मी के मौसम मे नकली पेय पदार्थो की दुकाने चलाई जाती है। खोवा मंडी मे स्थापित बहुचर्चित थोक डीलर की दुकान चर्चा मे बनी हुई है।

 

8 वस्तुओ के भरे सैंपल, पेय पदार्थ के कारोबारी राडार मे

तहसील के खाद्य सुरक्षा अधिकारी दिनेश कुमार ने बताया कि बीते दिनों विभाग के द्वारा अभियान चलाकर कालपी के बाजार की अलग – अलग दुकानों से खोवा, मीठी गोली, पान सुपारी, कचरी, दूध के 8 सैंपल भरकर राजकीय खाद्य प्रयोगशाला गोरखपुर परीक्षण के लिये भेजे गये है। उन्होंने बताया कि शिकायत मिलने पर पेय पदार्थो के नमूने भरने की कार्यवाही की जायेंगी।

Related posts

ए आई एम आई एम के जिलाध्यक्ष ने उप जिला अधिकारी को सौंपा 5 सूत्रीय ज्ञापन।

aajtakmedia

एक बार फिर चली तवादला एक्सप्रेस।

aajtakmedia

जनपद की तीन ग्राम पंचायतो में हो रहे पुनर्मतदान का एसपी ने किया निरीक्षण।

aajtakmedia

Leave a Comment