[t4b-ticker]
उत्तरप्रदेश उरई जालौन

उरई में कोरोना मरीजों के भर्ती के लिए बनाये गए उरई क्लब (एल -वन )में कोरोना के मरीजों की सुविधाओं के नाम पर ज़ीरो।

उरई (जालौन) इन दिनों देश में कोरोना भयंकर बीमारी की चपेट दिन व दिन काफी मरीज आ रहे है। जिनके भर्ती के लिए जिला स्तर पर उरई में उरई क्लब एल- वन बनाया गया है। जिसमें साफ सफाई की व्यवस्था के नाम पर कुछ नहीं है। सभी जगह गन्दगी का साम्राज्य है। बाथरूम गंदगी व पानी से बजबजा रहे हैं। अभी दो दिन पहले यहां पर कोरोना मरीजों को कच्ची जगह में कुत्तों की तरह खाना/ दवा दिया जाता था जिस पर मरीजों के हंगामा के बाद टेबिल पर खाना रख दिया जाता है लेकिन सभी कोरोना पॉजिटिव लोग अपने हांथ से ही उठाते चले जाते है। जिससे संक्रमण का खतरा बढ़ने का डर बना रहता है। यहां पर दूसरी मंजिल पर कमर नंबर 2 में चार दिन से बिजली ही गायब है। ऊपर दूसरी मंजिल पर मरीजों के लिए पानी भी नहीं है। उन्हें भी रात में या दिन में नीचे आना पड़ता है। सभी मरीजों को एक जैसी दवाएं मिलती है। सुगर के मरीज या अन्य गंभीर मरीजों का इलाज में वही दवाएं दी जाती है जो सभी को दी जाती है।
यहां बने प्रत्येक कमरे में मच्छरों का बहुत प्रकोप है। बीआईपी के लिए यहां पर अलग से व्यवस्था की जा रही है जिसको लेकर अन्य कोरोना मरीजों में गुस्सा है। आज एक लाइन चूने की इसलिये डलवा दी गई कि यहां पर अन्य कोरोना मरीज नहीं आएंगे, सिर्फ यहां बीआईपी ही रहेंगे। खाने का व नाश्ता मिलने का भी कोई समय निर्धारित नहीं है। मरीजों के लिए टेम्परेचर आदि भी कभी कभी लिया जाता है, मात्र खाना पूरी की जाती है। कई गंभीर मरीजों का इलाज नीचे लेटे -लेटे ही किया जाता है। अभी दो दिन पहले ही एक मरीज की मौत को लेकर मेडिकल कॉलेज में खूब बबाल हुआ था लेकिन फिर भी अभी भी यह सब जारी है। मरीजों को दिए जाने वाले चादर/ ताकिये इतने गंदे है कि उनमें बदबू आ रही है।

Related posts

कदौरा ब्लॉक के भेड़ी खुर्द गाँव की गौशाला में बड़ा झोल-झाल।

aajtakmedia

उत्तर प्रदेश में 18 जनपदों में साइबर पुलिस स्टेशन खुले।

aajtakmedia

अपनी सरजमीं पर पहुंच भावुक हो गए महामहिम राष्ट्रपति महोदय, पुरानी यादों में खो गए।

aajtakmedia

Leave a Comment