[t4b-ticker]
Top News उत्तरप्रदेश झाँसी

रेमदेसिविर इन्जेक्शन की कालाबाजारी करते झाँसी पुलिस ने सात धन पशुओं को किया गिरफ्तार।

झाँसी(उत्तर प्रदेश) पुलिस कप्तान के आदेश पर एसओजी टीम द्वारा जाल बिछाकर मेडिकल कॉलेज मे रेमदेसीविर इंजेक्शन की गोरखधंधे का भंडाफोड़ कर दिया मेडिकल कॉलेज के कुछ कर्मचारी प्राइवेट नर्सिंग होम के कर्मचारी और तमाम दलाल तरह के लोग पुलिस के शिकंजे में आए हैं सात लोगों को गिरफ्तार किया गया है कई बड़े डॉक्टरों के नाम का खुलासा हो सकता है सबसे बड़ी बात इसमें 10 इंजेक्शन नकली भी पकड़े गए हैं, रेमडेसिविर की खाली शीशी में डिस्टिल वाटर मिलाकर उसे ऊंची कीमत पर बेचते थे, पूछताछ अभी जारी है।
बताते चलें कि पुलिस ने इनके पास से ढाई लाख रुपये समेत इंजेक्शन की कई खाली शीशियां भी बरामद की हैं। पकड़े गए आरोपियों में तीन मेडिकल कॉलेज में संविदाकर्मी हैं, जबकि शेष प्राइवेट नर्सिंग होम में काम करते हैं। गिरोह की भनक लगने पर शुक्रवार रात एक सिपाही को तीमारदार बनाकर भेजा गया। उसके साथ पचास हजार रुपये में सौदा तय हुआ। पुलिस ने छापेमारी कर चार को मौके से पकड़ लिया। पूछताछ के बाद दो और पकड़ लिए गए। पूछताछ के दौरान मालूम चला कि महारानी लक्ष्मीबाई मेडिकल कॉलेज में संविदा पर काम करने वाले तीन कर्मचारी यह काम पिछले कई माह से कर रहे थे। रेमडेसिविर की मांग होने पर मेडिकल कॉलेज के स्टोर से निकालकर उसे बेच देते। उसके बाद खाली शीशी में डिस्टिल वाटर के साथ कुछ एंटीबायोटिक मिलाकर स्टोर में जमा कर देते। अप्रैल महीने की शुरुआत से जब डिमांड एक बारगी काफी बढ़ गई तब इन्होंने खाली शीशियों के लिए मेडिकल कॉलेज गेट नंबर एक पर स्थित मेडिकल स्टोर में काम करने वाले विशाल विरथरे समेत प्राइवेट नर्सिग होम में काम करने वाले हिमांशु, हरेंद्र, मानवेंद्र, सचिन से संपर्क किया और सभी को अपने साथ मिला लिया। यह सभी ग्राहक भी लेकर आते थे।
आसपास के नर्सिग होम में जितनी भी शीशियां खाली होती थीं, ये लोग अपने संपर्क से उसे अपने पास मंगा लेते थे। खाली शीशियों में डिस्टिल वाटर समेत एंटीबायोटिक मिलाकर ग्राहकों को ऊंची कीमत पर बेच दिया जाता था। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि जो इंजेक्शन बाहर से आते थे, वह मरीज को नहीं लगाते थे। जानबूझकर विलंब करके मरीज के मरने का इंतजार करते थे। मरीज के मरते ही इंजेक्शन गायब कर देते थे।
आरोपियों की निशानदेही पर ढाई लाख रुपये नकद समेत एक दर्जन रेमडेसिविर की खाली शीशियां भी बरामद की हैं। पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर लिया है लेकिन, एक पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया।

Related posts

नाबालिक के साथ अश्लील हरकत करने पर ,तीन के खिलाफ पुलिस ने लिखा Pasco act में मुकदमा।

aajtakmedia

रात्रि गश्त करके चौकी इंचार्ज करेंगे अपराधियो पर कार्यवाही, प्रभारी निरीक्षक ने दिए निर्देश।

aajtakmedia

नहीं थम रही टप्पेवाजी कि घटनाएं, युवक के साथ हुई 50 हज़ार की टप्पेवाजी।

aajtakmedia

Leave a Comment