[t4b-ticker]
उत्तरप्रदेश कालपी जालौन

मात्र दो डॉक्टरों के भरोसे चल रहा है सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र।

 

कॉरॉना काल में रात दिन जाग कर डॉक्टर कर रहे हैं मरीजों की सेवा।

 

पर्याप्त मात्रा में स्टाफ भी ना होने से आ रही हैं तमाम दिक्कतें

कालपी जालौन।

भीषण महामारी के दौर में भी कालपी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में डॉक्टरों की कमी के चलते लोगों को पर्याप्त स्वास्थ्य सेवाएं नहीं मिल पा रही हालाकी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉक्टर उदय कुमार रात दिन सेवा करके ज्यादा से ज्यादा मरीजों की देखभाल कर रहे हैं उनके साथ वर्तमान में केवल एक डॉक्टर सुंदर सिंह की नियुक्ति इस अस्पताल में है। जबकि कालपी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में लगभग एक दर्जन डॉक्टरों की नियुक्ति होनी चाहिए ऐसे में कोई भी महिला चिकित्सक ना होने की वजह से भी लोगों को बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

30 सैया वाले सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कालपी में डॉक्टरों के अभाव के चलते बड़ी परेशानी हो रही है कालपी स्वास्थ्य केंद्र में करीब एक दर्जन डॉक्टरों की नियुक्ति होनी चाहिए लेकिन पिछले कुछ दिनों से मात्र 2 डॉक्टरों के भरोसे कालपी का यह अस्पताल संचालित हो रहा है। केंद्र के प्रभारी डॉक्टर उदय कुमार के अलावा मात्र एक और डॉक्टर सुंदर सिंह की नियुक्ति वर्तमान में है जबकि 60 हजार की आबादी वाले इस नगर के लिए तथा आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों के लिए एकमात्र यही अस्पताल है जहां लोग अपने मरीजों को दिखाने के लिए पहुंचते हैं। केवल दो डाक्टरों के ऊपर आने वाले मरीजों का लोड रहता है वही इस कोरोना महामारी में कोरोना की जांच के साथ-साथ वैक्सीन लगाने का भी काम निरंतर चल रहा है। पिछले करीब 2 वर्ष से इस अस्पताल में ना तो कोई महिला डॉक्टर है और ना ही कोई हड्डी रोग विशेषज्ञ। इन परिस्थितियों में कालपी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कम से कम एक महिला डॉक्टर तथा दो पुरुष डॉक्टर की नियुक्ति होना अति आवश्यक है तथा कुछ अन्य स्टाफ भी बढ़ाए जाने की आवश्यकता है। नरेंद्र मोदी विचार मंच के राष्ट्रीय महामंत्री अशोक बाजपेई, समाजवादी पार्टी के नेता हरमोहन सिंह यादव, मलखान सिंह यादव, कॉन्ग्रेस के पूर्व उपाध्यक्ष योगेंद्र नारायण शुक्ला, रामकुमार ओमरे, आदि लोगों ने जिला अधिकारी एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी जालौन से कालपी के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कम से कम दो-तीन डॉक्टरों की अभिलंब नियुक्त किए जाने की मांग की है।

Related posts

सरस्वती शिशु मंदिर अनौखी पहल-कोरोना काल मे मृतक आश्रितों को मिलेगी मुफ्त शिक्षा।

aajtakmedia

सुहागिनों ने करवा चौथ व्रत रख की पतियों की दीर्घायु की की कामना।

aajtakmedia

विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर प्रधान पार्क में हुआ वृक्षारोपण।

aajtakmedia

Leave a Comment

error: Content is protected !!