[t4b-ticker]
उत्तरप्रदेश कालपी जालौन

एसडीएम ने मृतक अधिवक्ता के परिजनो को दी खतौनी।

 

कालपी(जालौन) तहसीलदार बलराम गुप्ता ने बताया कि ग्राम
मुसमरिया के निवासी शिवकुमार विश्वकर्मा तहसील कालपी में अधिवक्ता के रूप में प्रैक्टिस करते थे। उनकी मृत्यु कोविड-19 से हो गई थी। मृतक अधिवक्ता की जमीन ग्राम छौंक में थी। जिसके बारे में इनके परिजनों को जानकारी ना होने के कारण वरासत दर्ज नहीं की जा सकी थी। जिला प्रशासन द्वारा कोविड-19 से मृतक हुए कृषकों की विरासत दर्ज करने हेतु चलाए गए अभियान के क्रम में क्षेत्रीय लेखपाल व तहसीलदार कालपी के प्रयास से यह पता चला कि इनकी भूमि ग्राम छौंक में है। तत्परता से कार्यवाही करते हुए मृतक वकील की पत्नी श्रीमती राजकुमारी व पुत्र प्रदुमन का नाम राजस्व रिकॉर्ड में दर्ज करते हुए स्वयं उप जिलाधिकारी कालपी कौशल कुमार द्वारा इन्हें खतौनी आज वुधवार को प्राप्त करा दी गई।
तहसीलदार कालपी द्वारा बताया गया कि कोविड-19 से मृत हुए व्यक्तियों की सूची में पांच ऐसे कृषक थे जिनकी बारासत की कार्यवाही नहीं की जा सकी थी। जिसे तत्परता से करते हुए उन्हें खतौनी की प्रति उपलब्ध करा दी गई है। साथ ही ऐसे व्यक्ति जो भूमिहीन हैं उन्हें आवास व कृषि के पट्टे प्राथमिकता के आधार पर किए जाएंगे।

 

Related posts

कोरोना कहर के कारण इटावा लायन सफारी में भी अलर्ट, बरेली भेजे जाएंगे सैंपल।

aajtakmedia

स्ट्रीट लाइट लगवाने के साथ प्रदूषण मुक्त करने के लिए वार्ड नंबर 66 में ग्रीनरी बेल्ट का निर्माण करते हुए वृक्षारोपण किया गया।

aajtakmedia

श्रीराम महायज्ञ रामलीला में धनुष भंग लीला का हुआ सफल मंचन।

aajtakmedia

Leave a Comment