[t4b-ticker]
Top News इटावा उत्तरप्रदेश

पत्रकारों के साथ मारपीट की घटनाओं को मुख्यमंत्री स्वयं संज्ञान लें, जनप्रतिनिधि और अधिकारी दबाने की कोशिश कर रहे हैं चौथे स्तंभ की आवाज।

 

इटावा में पत्रकारों के सम्मान समारोह में प्रदेश प्रभारी सुघर सिंह को चांदी का मुकुट पहनाकर किया गया सम्मानित

वीरेंद्र सिंह सेंगर

इटावा। इलेक्ट्रॉनिक एंड प्रिंट मीडिया वेलफेयर एशोशियशन (भारत) के प्रदेश प्रभारी सुघर सिंह ने उदी मोड़ पर आयोजित विशाल बैठक व पत्रकार सम्मान समारोह में कहा कि आज जिस तरह से उत्तर प्रदेश ही नहीं बल्कि पूरे देश में लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ का गला घोंटने का प्रयास किया जा रहा है जो हम सबके लिए बेहद दुखद व चिंताजनक है।

उदी मोड़ पर सुशील तिवारी उर्फ रिंकू चौधरी के संयोजन में पंडित लक्ष्मी नारायण पब्लिक स्कूल में आयोजित विशाल बैठक व सम्मान समारोह में बोलते हुए सुघर सिंह ने कहा कि हमारे पत्रकार साथी अपनी जान जोखिम में शासन की खबरे जनता तक और जनता की समस्या शासन तक पहुंचाने का कार्य करते हैं तो ये बात कुछ दबंगों के साथ साथ उच्चाधिकारियों को भी नागवार गुजरती है । और पत्रकारों को अपने निशाने पर लेकर मारपीट हत्या तक करने लगते हैं। हम पत्रकारों के साथ इस तरह का अत्याचार हरगिज बर्दाश्त नहीं करेंगे । देश मे अगर पत्रकारों का शोषण हो रहा है तो उसके जिम्मेदार कहीं न कहीं अधिकारी और नेता भी हैं । जो इस तरह की घटनाओं को करवाते है। और मुख्यमंत्री को गुमराह करते है और असल घटना की जानकारी मुख्यमंत्री को नही देते। उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रॉनिक एवं प्रिंट मीडिया वेलफेयर एसोसिएशन भारत के माध्यम से प्रदेश के सभी पत्रकारों को संरक्षण देने का काम करेंगे । बैठक में इलेक्ट्रॉनिक एवं प्रिंट मीडिया वेलफेयर एसोसिएशन के मनोनीत पदाधिकारियों को नियुक्त पत्र पहचान पत्र देकर सम्मानित किया गया। इलेक्ट्रॉनिक एवं प्रिंट मीडिया वेलफेयर एसोसिएशन के संयोजक / प्रदेश प्रभारी सुघर सिंह को इटावा जिला इकाई के पदाधिकारियों द्वारा चांदी का मुकुट, पगड़ी पहनाकर सम्मानित किया गया। उन्होंने सभी पदाधिकारियों का आभार व्यक्त किया।

बैठक में मीडिया अधिकार मंच भारत के राष्ट्रीय अध्यक्ष सतेन्द्र सेंगर ने कहा है पत्रकारों पर हो रहे उत्पीड़न के जिम्मेदार वह स्वयं है जो कि छोटे बड़े बैनर एवं जातिवाद में बट कर पत्रकारिता कर रहे है। पत्रकारों में एकजुटता न होने से शासन प्रशासन आदि समाजिक आराजक लोग फायदा उठाकर बारी बारी हम सबको निशाना बना रहे है। वहीं पर सतेन्द्र सेंगर ने यह भी कहा कि एक निशुल्क समाज सेवी पत्रकार आखिर आज गलियों का दलाल का दर्जा दिया गया है इसका सिर्फ यही कारण है कि देश की आजादी से लेकर आज तक हम लोक तन्त्र के चौथे स्तम्भ को लोगों ने अपना गुलाम समझ रखा है,

वहीं दूसरी ओर एक सड़क छाप व्यक्ति को हम पत्रकारों ने अपनी लेखनी और कैमरा की दम पर जनप्रतिनिधि बना दिया जिसे एक नहीं तीन तीन पेशन मिलने लगती है आखिर यह कौन सा सविधान है कि एक व्यक्ति को तीन – तीन पेशन मिले वहीं लोक तन्त्र तन्त्र का चौथा स्तम्भ आज तक जनता से लेकर जनप्रतिनिधि निशुल्क गुलामी करे। सतेन्द्र सेंगर ने अंत में कहा कि देश प्रत्येक पत्रकार को जब तक काम के बदले दाम मिलने का संविधानिक अधिकार नहीं मिलेगा तब तक देश का भविष्य नहीं सुधरेगा। प्रदेश महासचिव डॉ सुशील सम्राट ने सभी पत्रकारों से पूरी इमानदारी में निष्पक्षता से काम करने का आह्वान किया। आगरा मंडल के प्रभारी राजीव यादव ने कहा कि आज लोकतंत्र के चौथे स्तंभ से अधिकारी काम तो ले रहे हैं लेकिन पत्रकार के उत्पीड़न का शिकार होने पर चुप्पी साध जाते हैं क्योंकि उत्पीड़न में उनकी पूरी भागीदारी रहती हैं मुख्यमंत्री इस मामले में ठोस कदम उठाएं।
प्रदेश सचिव डॉ मौसम अली ने कहा कि आज प्रदेश में पत्रकार सुरक्षित नहीं है पत्रकारों की हत्या व हमले होना आम बात हो गई है जब तक खुद सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ पत्रकारों के मामलों में गंभीरता नहीं दिखाएंगे तब तक पत्रकारो का उत्पीड़न होता रहेगा। क्योंकि उत्पीड़न कराने में जनप्रतिनिधि व अधिकारी जिम्मेदार होते हैं

बैठक में भूपेंद्र सिंह यादव राष्ट्रीय महामंत्री, रवि कठेरिया राष्ट्रीय संगठन मंत्री, प्रमोद सिंह संस्थापक, बिक्रम सिंह राष्ट्रीय जन सम्पर्क अधिकारी, मु. साजिद, ने समारोह को सम्बोधित किया।

प्रदेश प्रभारी सुघर सिंह ने जिलाध्यक्ष डॉ प्रवीण कुमार, जिला संयोजक सुशील तिवारी उर्फ रिंकू तिवारी, जिला उपाध्यक्ष अनिल चौधरी, जिला सचिव डॉ अखिलेश गौतम, ब्लॉक उपाध्यक्ष प्रशि कांत उर्फ सन्दीप गौतम, संजय कुमार, लव कुश श्रीवास्तव, पुनीत शर्मा, नीरज धनगर, नीरज यादव, इशरत अब्बासी, पंकज चौहान, प्रमोद सागर, शिव अनुराग शुक्ला, अनिल कुमार, विपिन कुमार सिंह, दीपेंद्र सिंह, चंद्र प्रताप सिंह, करुणानिधि, अनुराग राजपूत, सत्यदेव शर्मा, अरविंद सोनी, संजय कुमार, अनुज गौर, निखिल शर्मा, रूबी सिंह, डॉ अखिलेश कुमार गौतम, दीपेश गौतम, अनिल चौधरी, राजीव यादव, विनीत कुमार, इशरत अब्बासी, राजेन्द्र सिंह, महावीर सिंह आदि को नियुक्त पत्र, संगठन का परिचय पत्र, देकर पुष्पहार पहनाकर सम्मानित किया गया।

Related posts

हल्की बारिश ने ही खोली शासन की पोल, भीखेपुर – जूहीखा मार्ग पर जलभराव और कीचड़ हो जाने के कारण आने जाने वाले वाहनों को हो रही परेशानी।

aajtakmedia

चिरंजीव भारती के डायरेक्टर कर्नल राजा ने मंत्री स्वाति सिंह को सौंपा 11000 का चेक।

aajtakmedia

सम्पूर्ण थाना समाधान दिवस में आयी एक शिकायत मौके पर हुआ निस्तारण।

aajtakmedia

Leave a Comment