घर-घर जाकर 10 अगस्त से खिलाई जाएगी फाइलेरिया से बचाव की दवा

Aug 3, 2023 - 18:09
 0  45
घर-घर जाकर 10 अगस्त से खिलाई जाएगी फाइलेरिया से बचाव की दवा

हरदोई, 3 अगस्त 2023 राष्ट्रीय फाइलेरिया उन्मूलन कार्यक्रम के तहत जनपद में 10 से 28 अगस्त तक सर्वजन दवा सेवन (एमडीए) अभियान चलाया जाएगा | इसके तहत घर-घर जाकर लोगों को फाइलेरिया से बचाव की दवा खिलाई जाएगी | इसी क्रम में बुधवार को अहिरौरी विकासखंड में ब्लॉक प्रमुख धीरज सिंह पन्ने, खंड विकास अधिकारी पंकज कुमार यादव ने स्वयंसेवी संस्था सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च (सीफॉर) और प्रोजेक्ट कंसर्न इंटरनेशनल (पीसीआई) के जिला समन्वयक के सहयोग से पंचायत प्रतिनिधियों को संवेदीकृत किया | कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए एडीओ पंचायत प्रमोद कुमार ने कहा कि सभी सचिव तथा ग्राम प्रधानों को अपनी ग्राम पंचायत की जिम्मेदारी लेनी चाहिए कि उनकी पंचायत में सभी लोग फाइलेरिया से बचाव की दवा का सेवन जरूर करें जिससे फाइलेरिया उन्मूलन कार्यक्रम को गति मिल सके।

 बैठक में बताया गया कि फाइलेरिया लाइलाज बीमारी है | इससे व्यक्ति की मृत्यु तो नहीं होती है लेकिन वह आजीवन दिव्यांगता के साथ जीता है | इससे बचाव का एकमात्र उपाय फालेरिया से बचाव की दवा का सेवन करना है | इसलिए 10 अगस्त से चलने वाले आईडीए राउंड में सभी लोग सहयोग करें | सभी लोग खुद दवा का सेवन करें क्योंकि ब्लॉक के सम्मानित व्यक्ति जब खुद दवा का सेवन करेंगे तो आम जनता भी फाइलेरिया से बचाव की दवा खाने में नहीं हिचकिचाएगी | इसके साथ ही यह भी सुनिश्चित करें कि लोग स्वास्थ्य कार्यकर्ता के सामने ही दवा खाएं उनसे मांग कर न रखें कि बाद मे खाएंगे | स्वास्थ्य कार्यकर्ता घर घर जाकर लोगों को फाइलेरिया से बचाव की दवा खिलाएंगी |

फाइलेरिया रोधी दवा एक साल की आयु के बच्चों, गर्भवती और अति गंभीर बीमारी से पीड़ित व्यक्ति को छोड़कर सभी को खानी है | उन्होंने बताया कि अहिरौरी ब्लॉक के 10 गांव परसपुर , अहिरोरी ,सहुलपुर ,मंगोलपुर ,भीठामहा सिंह ,खड़ा खेडा ,बरखेरवा,बिरजी खेडा ,चैन खेड़ा और काटका में फाइलेरिया रोगियों का समूह बनाकर उन्हें इस बीमारी की गंभीरता के बारे में बताया गया | उन्हें फाइलेरिया बीमारी का प्रबंधन और फाइलेरिया दवा सेवन की जानकारी दी गई है जिसके परिणामस्वरूप वह लोग आईडीए राउंड में स्वयं भी दवा खाने के लिए और अन्य लोगों को दवा का सेवन करने के लिए प्रेरित करने के लिए वचनबद्ध हैं |     

उन्होंने बताया कि फाइलेरिया क्यूलेक्स मच्छर के काटने से होती है और इसके लक्षण पाँच से 15 साल् के बाद दिखाई देते हैं | इसलिए आप लोग समुदाय को मच्छरजनित परिस्थितियों से बचने के लिए जागरूक करें और 10 अगस्त से चलने वाले आईडीए राउंड में अपना सहयोग करें |   

ग्राम प्रधान खाड़ाखेड़ा के प्रधान प्रतिनिधि गुड्डू सिंह और सहाउलपुर के प्रधान प्रतिनिधि बसंत कुमार ने कहा कि वह इसमें हर तरह से सहयोग करने के लिए तैयार हैं | वह नहीं चाहते हैं कि कोई भी व्यक्ति इस बीमारी से पीड़ित हो | इसलिए वह स्वयं भी दवा खाएंगे और दूसरों को भी खिलाएंगे |

इस मौके पर 12 पंचायत सचिव और दो प्रधान प्रतिनिधि मौजूद रहे |

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow