विद्यालय की सच्चाई छापने पर फनफनाई अध्यापिका ने पत्रकार के घर में घुस कर दी चेतावनी

Oct 28, 2023 - 19:33
 0  207
विद्यालय की सच्चाई छापने पर फनफनाई अध्यापिका ने पत्रकार के घर में घुस कर दी चेतावनी

अमित गुप्ता

संवाददाता

माधौगढ़ (जालौन) कंपोजिट विद्यालय की सच्चाई छपने से गुस्साए शिक्षकों ने पत्रकार के घर पर धावा बोलकर औकात में रहने की चेतावनी दे डाली । कलम की आजादी पर कुठाराघात करने के प्रयास पर पत्रकारों ने बैठक कर आक्रोश व्यक्त किया है।

 विकासखंड माधौगढ़ अंतर्गत ग्राम भगवानपुर स्थित कंपोजिट विद्यालय की सच्चाई छपने से आक्रोशित विद्यालय की दो शिक्षिकाओं एवं तीन शिक्षकों ने पत्रकारों के घर पहुंचकर ना कहने लायक बातों को चिल्ला चिल्ला कर खुलेआम कहते हुए पत्रकार के सम्मान को चोट पहुंचाई , हद पार तो तब हो गई जब क्रोधातुर एक शिक्षिका श्रीमती अर्चना देवी अपने संयम का बांध तोड़कर पत्रकार के घर के अंदर प्रवेश कर गई व उसकी पत्नी को खरी-खोटी सुना डाली और पत्रकार की पत्नी के ही मोबाइल से पत्रकार को औकात में रहने की चेतावनी दे डाली । इस घटना की ऑनलाइन शिकायत करते हुए पत्रकार देवेंद्र सिंह निवासी भगवानपुरा थाना कोतवाली माधौगढ़ ने करते हुए बताया कि कंपोजिट विद्यालय भगवानपुर में तीन शिक्षक व 2 शिक्षकाओं सेवारत हैं । अति पिछड़े ग्रामीण क्षेत्र में विद्यालय होने से यहां कभी भी शिक्षक शिक्षिकाएं समय से नहीं आती परिणाम स्वरूप व विद्यालय में समय से पहुंचने वाले छात्र-छात्राएं बाहर खेलते रहते है। विद्यालय खुलने के उपरांत शिक्षकों द्वारा बच्चों से पूरे परिसर में झाड़ू लगवा कर सफाई कराई जाती है । इस आशय की जानकारी ग्रामवासियों द्वारा स्थानीय पत्रकार देवेंद्र सिंह को दी गई तो वह विद्यालय दिवस में प्रातः 9. 29 बजे विद्यालय जा धमके इस समय वहां एक भी शिक्षिका शिक्षक मौजूद नही थे । बच्चों को झाड़ू लगाते हुए फोटो एवं छात्र-छात्राओं के अभिभावकों की जुवानी का वीडियो भी बनाया ।यह खबर सोशल मीडिया एवं समाचार पत्र में प्रकाशित होने पर विद्यालय के शिक्षकों के तनवदन में आग लग गई । अपने गुस्से को काबू में न कर पाने के कारण सभी शिक्षक पत्रकार देवेंद्र सिंह के घर जा धमके ऊलजुलूल बोलते हुए घर से बाहर निकलने को कहा लेकिन अंदर से कोई जवाब न मिलने के कारण क्रोध से फनफनाती श्रीमती अर्चना देवी दनदनाते हुए पत्रकार के घर में घुस गई और देवेंद्र सिंह की पत्नी को अपमानित करते हुए अपने पति को फोन लगाने को कहा। देवेंद्र की पत्नी ने जैसे ही अपनी पति को मोबाइल से कॉल की बातचीत होने के बीच में ही शिक्षिका अर्चना ने मोबाइल छीनकर पत्रकार देवेंद्र को परिणाम भुगतने की चेतावनी दे डाली। पत्रकार देवेन्द्र द्वारा उक्त आशय की ऑनलाइन शिकायत के बाद आज माधौगढ़ तहसील परिसर में पत्रकारों की बैठक वरिष्ठ पत्रकार विजय द्विवेदी जगम्मनपुर की अध्यक्षता में संपन्न हुई जिसमें उपस्थित वरिष्ठ पत्रकार प्रिंस द्विवेदी ,विनय प्रताप सिंह कैलोर ,अखिलेश सविता, डॉक्टर विनोद कुमार , दीपक उदैनियां ,अजीत उपाध्याय , महेंद्र गौतम , सौरभ कुमार रामपुरा, रामकुमार द्विवेदी अंढाई, विजय सिंह समाजसेवी , संतोष कुमार , जगमोहन सिंह बहराई ,अंकिक दीक्षित, भोला पाठक ईंटों, नीलकमल ईंटों, आशीष भंगा , अंकित यज्ञिक जगम्मनपुर ने देवेंद्र सिंह से पूरी घटना की जानकारी ली इस पर उपस्थित सभी पत्रकारों ने निर्णय लिया की आगामी 31अक्टूबर मंगलवार को तहसील माधौगढ़ क्षेत्र के समस्त पत्रकार एकत्रित होकर गत दस वर्षों से भगवानपुरा विद्यालय में तैनात संबंधित शिक्षिका एवं विद्यालय में 15 वर्ष से तैनात शिक्षक जो विद्यालय में छात्रों को पढ़ाने के स्थान पर एक राजनीतिक दल के संगठन को मजबूत करने की राजनीति करते हैं उनके विरुद्ध अभियान चलाकर उन्हें हटवाने व अन्य प्रकार की जांच करवाने हेतु रणनीति तय की जाएगी।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow