[t4b-ticker]
उत्तरप्रदेश कालपी जालौन

ट्यूबवेल के मोटर तथा हैंडपंपों में खराबी से पेयजल संकट गहराया

 

ऊंचाई में बसे मुहल्लावासियों को ज्यादा दिक्कत

कालपी जालौन भीषण गर्मी के मौसम में गिरते जलस्तर , हैंडपंपों तथा ट्यूबवेल में खराबियों के कारण कालपी
नगर में पेयजल की समस्या बढ़ती जा रही है। ऊंचाई के मुहल्लो में पानी का संकट गहरा गया है।
विदित हो कि कालपी के
नगरीय क्षेत्र में 14 नलकूप तथा 527 हैंडपंप लगे हैं। ज्यादातर हैंडपंप जवाब देने लगे हैं। अपूर्व शरद श्रीवास्तव, रामकुमार तिवारी,जयवीर सिंह यादव, सफीक अहमद इसलाम अहमद आदि अधिवक्ताओं ने बताया कि तहसील कम्पाउन्ड के सभी आधा दर्जन हैंडपंपों में खराबी होने से पानी का संकट है। उन्होंने बताया कि एक हैंडपंप को पिछले दिनों सुधारा गया। लेकिन उससे भी काला पानी निकल रहा है। इसी प्रकार दमदमा, मिर्जा मंडी सब्जी मंडी, आलमपुर कांशीराम कालोनी,रामचबूतरा आदि मुहल्लो में स्थापित हैंडपंपों में खराबी आने से पानी का संकट गहरा गया है। हरी गंज स्थित सरकारी ट्यूबवेल की मोटर फुंक जाने से दमदमा,जुलैहटी आदि स्थानों में पेयजल आपूर्ति व्यवस्था गड़बड़ा गई थी। दो दिन बाद मोटर दुरुस्त हो जाने पर शुक्रवार से पेयजल आपूर्ति व्यवस्था ठीक हो सकी।
जोल्हूपुर गांव निवासी रविंद्र सिंह ने बताया कि भीषण गर्मी हो जाने से पानी संकट और बढ़ गया है। हैंडपंपों के सहारे जीवन बिता रहे लोगों में हाहाकार मचा हुआ है। हैंडपंपों की रीबोरिंग, नए लगाने का काम नहीं हो सका है। पिछले साल से सूखे पड़े हैंडपंप सूखे ही हैं।
ग्रामीण इलाकों में स्थिति ज्यादा खराब है।
जल संस्थान के अवर अभियंता सभापति सिंह ने बताया कि पेयजल आपूर्ति के लिए मुकम्मल व्यवस्था कर ली गई है। नगर पालिका तथा जल संस्धान के करीब आधा दर्जन टैंकर है। जरूरत वाले स्थानों में
टैंकर से पानी भेजा जाएगा। उन्होंने बताया कि ऊंचाई वाले इलाकों दमदमा,रावगंज उदनपुरा रामचबूतरा आदि में निगरानी रखी जा रही है।

Related posts

ओवरलोड ट्रकों ने सड़कों को खस्ताहाल करने की खाई कसम।

aajtakmedia

कदौरा ब्लॉक् के ग्रामीण क्षेत्रों में चल रहा वेक्सिनेशन का कार्य।

aajtakmedia

आर्थिक तंगी के चलते युवा मजदूर ने की आत्म हत्या हुई मौत।

aajtakmedia

Leave a Comment

error: Content is protected !!