तालाब में डूबकर मासूम बालक की मौत।

बीरेंद्र सिंह सेंगर

औरैया। कोतवाली क्षेत्र के ग्राम कुल्हूपुर जलोखर में शुक्रवार की दोपहर एक मासूम बालक तालाब में डूब गया। ग्रामीणों ने उसे तालाब में उतराते देखा। परिजन मासूम बालक को जिला अस्पताल ले आये , जहां पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। घटना की जानकारी स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोतवाली पुलिस को दी गई। सूचना के 2 घंटे बाद भी पुलिस अस्पताल नहीं पहुंची। परिजनों ने किसी प्रकार की कार्रवाई करने से इंकार कर दिया। बालक की मौत से परिजनों में कोहराम मच गया।
क्षेत्र के ग्राम कुल्हूपुर जलोखर निवासी शिव सिंह का डेढ़ वर्षीय पुत्र रत्नेश शुक्रवार की दोपहर करीब साढ़े 12 बजे गांव की ही कुछ बच्चों के साथ खेलते- खेलते मत्स्य पालन वाले तालाब के समीप चला गया। तभी वह तालाब में भरे पानी में गिरकर वह डूब गया। पास में ही एक गमी के चलते नौवार में शामिल होने आये लोगों ने मासूम बालक को तालाब में उतराते हुए देखा। बालक के डूबने की खबर पर ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई। जब बालक को बाहर निकाला गया तो उसकी शिनाख्त रत्नेश पुत्र शिव सिंह के रूप में परिजनों ने की है। परिजन बालक को आनन-फानन लेकर जिला अस्पताल पहुंचे। जहां पर चिकित्सकों ने उसे देखते ही मृत घोषित कर दिया। मासूम बालक की मौत पर परिजनों का करुण क्रंदन गूंजने लगा। स्वास्थ्य विभाग द्वारा घटना की पीआई कोतवाली पुलिस को भेजी गई। लेकिन करीब 2 घंटे बीत जाने के बावजूद पुलिस अस्पताल नहीं पहुंची। वहीं परिजन पुलिस के आने का इंतजार करने लगे। सूचना के बावजूद पुलिस का नहीं पहुंचना लापरवाही को प्रदर्शित करता है। बताया जाता है कि पुलिस ने मृतक बालक समेत परिजनों को कोतवाली बुला लिया। जहां पर परिजनों ने किसी प्रकार की कार्रवाई करने से इंकार कर दिया। जिस पर पुलिस ने परिजनों को उक्त मृतक बालक को ले जाने दिया। बताया जाता है कि मृतक बालक के दो बड़े भाई हैं। दोनों भाई 10 वर्ष से कम उम्र के हैं।

संपादक संतोष कुमार निरंजन।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *