[t4b-ticker]
उत्तरप्रदेश कदौरा जालौन

आखिर क्या कारण है कि यूनानी आयुर्वेदिक चिकित्सालय पर स्वास्थ विभाग अधिकारी की क्यों नहीं पहुंचती है नज़र।

संपादक – संतोष कुमार निरंजन
कदौरा (जालौन)  आखिरकार स्वास्थ्य विभाग सीएमओ की नजर क्यों नहीं पड़ती सीएमओ क्यों इतनी मेहरबान है यूनानी आयुर्वेदिक चिकित्सालय कदौरा में चल रहा है यूनानी आयुर्वेदिक चिकित्सालय जिसकी मर्जी डॉक्टर अपनी मनमानी कर रहा है उसका कहना है शासन मेरी ड्यूटी कभी इधर कभी उधर लगाता है लेकिन यह लापरवाही इतनी देखी जा सकती है डॉक्टर की ड्यूटी यहां वहां लगने से वह अस्पताल परमानेंट खुल्ला रहा है डॉक्टर का कहना है कि मैंने में रखी हुई महिला को मैं इसलिए अस्पताल करवाता हूं कि वह मरीजों को दवा दे सके आखिरकार सीएमओ की लापरवाही के चलते यूनानी आयुर्वेदिक चिकित्सालय कदौरा मैं जो महिला डॉक्टर के कहने पर अस्पताल दो समय से खोल देती है पर अभी भी डॉक्टर पर इसका कोई असर नहीं पड़ रहा है रखी हुई डॉक्टर की महिला को किसने अधिकार दिया है की यूनानी आयुर्वेदिक चिकित्सालय कदौरा में खोलें इसकी परमिशन क्या सीएमओ द्वारा दी गई है अगर दी गई है तो सीएमओ की यह लापरवाही देखने को मिल रही है आखिरकार महिला को ₹3000 मंथली में रखा गया है इसका मतलब यह नहीं है कि अस्पताल में बैठकर मरीजों को दवा दें क्या इनके पास कोई डिप्लोमा है नर्स के रूप में अस्पताल में बैठने का अगर नहीं है या यूनानी आयुर्वेदिक चिकित्सालय कदौरा मैं साफ सफाई के लिए रखी गई हैं ना कि अस्पताल में दवा वितरित करने के लिए अब देखना है कि सीएमओ द्वारा डॉक्टर एवं कार्रवाई देखने को मिलती है या फिर सीएमओ या इसको संज्ञान में लेकर उचित कार्रवाई करती हैं या फिर लीपापोती करके इसको फिर डाल देती है।

Related posts

इलाहाबाद प्रयागराज संगम पर मोनी अमावस्या पर लोगों ने किए संगम पर स्नान।

aajtakmedia

ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के संस्थापक को नमन करते हुए भावभीनी श्रद्धांजलि।

aajtakmedia

याकूब हसन कोंच के क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी बने।

aajtakmedia

Leave a Comment