[t4b-ticker]
Top News उत्तरप्रदेश औरैया

ग्राम पंचायत की समितियों के गठन में झगड़ा और मारपीट, नहीं हो पाया समितियों का गठित।

 

अयाना (औरैया) जनपद में हाल ही में हुए त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में ग्राम पंचायत सदस्यों का चुनाव न हो पाने के कारण पंचायतों की समितियों का गठन नहीं हो पाया था इसलिए पंचायत सदस्यों के चुनाव और शपथ के बाद अब ग्राम पंचायतों में समितियों का गठन का कार्य जोरों पर चल रहा है लेकिन पंचायतों में विरोध के चलते सदस्यों और प्रधानों के बीच खींचतान होने के कारण आए दिन झगड़ों की खबरें भी प्राप्त हो रहीं हैं जिससे पंचायतों के गठन में मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है जिससे प्रशासन और पुलिस प्रशासन का सहयोग लेना पड़ रहा है।
बताते चलें कि इसी के क्रम में जनपद के थाना अयाना अंतर्गत ग्राम पंचायत नवादा ज्वाला प्रसाद में सदस्यों द्वारा समितियों के गठन को लेकर झगड़ा हो गया जिससे समितियों का गठन नहीं हो पाया बताते चलें कि पिछली 20.06.2021 को भी इसी बात को लेकर पंचायत में झगड़ा हुआ था लेकिन सचिव की लापरवाही के चलते पुलिस और प्रशासन को बगैर सूचना दिए आज फिर से वहां समितियों के गठन के लिए पहुंचे पंचायत सचिव धन पटेल और उनके साथ अरमान के सामने ही दोबारा समितियों को लेकर ज़ोरदार झगड़ा और मारपीट हो गई जिसकी सूचना ग्राम वासियों ने पुलिस को दी जिस पर मौके पर 112 नंबर तथा मोबाइल बैन प्रथम और द्वितीय जिनपर एस आई सूर्यवीर और रहीस खान दोनों मौके पर पहुंचे जिन्होंने स्थिति को संभाला तथा उचित कार्रवाई की।
बताते चलें कि आज गांव के प्राथमिक विद्यालय मैं समितियों के गठन के लिए सभी को बुलाया गया जिसमें पंचायत के सभी नवनियुक्त 12 सदस्य, छोटे, सर्वेश कुमार, शकुंतला, मथुरा प्रसाद, विनीता, रामकली, सपना, अजय, प्रांशी, गुंजन, लीलावती, और सरिता देवी सभी मौके पर मौजूद थे लेकिन विगत 20 जून को हुए विवाद को लेकर आपस में पुनः विवाद बढ़ गया तथा बैठक का वीडियो बृजेश कुमार पुत्र स्वामी द्वारा बनाए जाने पर वहां मौजूद कल्लू पुत्र अभिलाष ने विरोध किया इससे झगड़ा और विकराल हो गया और सदस्य दो भागों में बंट गए जिससे वहां पर पंचायत के गठन में आपस में कहासुनी होने पर विवाद बढ़ गया और विवाद के बढ़ते वहां मारपीट शुरू हो गई जिसमें दशरथ पुत्र अर्जुन जिनकी पत्नी विनीता वर्तमान में सदस्य घायल हो गए जिससे पंचायत की बैठक में अफरा-तफरी मच गई आनन-फानन में ग्राम वासियों द्वारा पुलिस को सूचना देने पर मौके पर 112 नंबर और मोबाइल बैन प्रथम और द्वितीय के पहुंचने पर स्थिति को काबू किया गया कहासुनी झगड़े के रूप में बदल गई और वहां पर लाठी-डंडों ईट पत्थर चलने से वहां पर स्थिति गंभीर हो गई जिसे पुलिस प्रशासन ने संभाला।

वीरेंद्र सिंह सेंगर

Related posts

सपा की बैठक में 26 जनवरी को ट्रेक्टर मार्च निकालने हेतु हुई चर्चा

aajtakmedia

नदीगांव पुलिस ने धारा 308, 323, 504 और 506 में लिखा मुकद्दमा।

aajtakmedia

बंद पड़ी रोडवेज बसों को पुनः संचालित करने के लिए उपजिलाधिकारी को दिया ज्ञापन।।

aajtakmedia

Leave a Comment