[t4b-ticker]
Top News उत्तरप्रदेश सुल्तानपुर

*मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में जिला महिला चिकित्सालय में मनाया गया कन्या जन्मोत्सव।

संपादक  – संतोष कुमार निरंजन

 

ब्यूरो रिपोर्ट —–विमल कुमार दूबे सुलतानपुर

सुलतानपुर  शासन के निर्देशानुसार जिलाधिकारी रवीश गुप्ता के कुशल नेतृत्व में आज जिला महिला चिकित्सालय सुलतानपुर में मुख्य विकास अधिकारी अतुल वत्स की अध्यक्षता में आज जन्मी बालिकाओं को कन्या जन्मोत्सव के शुभ अवसर पर 03 नवजात शिशु (बालिका) की माताओं को बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं के अन्तर्गत बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ लोगो सहित प्रत्येक बालिका को एक-एक कम्बल, एक बेबी किट, एक पैकेट मिठाई एवं कन्याओं के नाम से प्रशस्ति पत्र मुख्य विकास अधिकारी एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ0 डी0के0 त्रिपाठी व जिला प्रोबेशन अधिकारी अशोक कुमार के कर कमलों से वितरित किया गया।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी द्वारा आज जन्म लेने वाली बालिकाओं को उनकी माताओं से अपील की है कि उन्हें ठण्ड से बचाव एवं उनके स्वास्थ्य एवं शिक्षा पर बहुत ध्यान देने की आवश्यकता है, आगे चलकर यही बालिकाएं पढ़ लिखकर अपने परिवार, जनपद व प्रदेश का नाम रोशन करने की मंगल कामना की।
उक्त अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने सभी माताओं से अपील की है कि वह अपनी-अपनी बच्चियों के स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहें एवं उनका सम्पूर्ण टीकाकरण जिला चिकित्सालय एवं किसी भी सीएचसी/पीएचसी पर कराने हेतु प्रोत्साहित किया। इसी क्रम में जिला प्रोबेशन अधिकारी द्वारा बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के अन्तर्गत बेटियों के प्रति समान शिक्षा, समान स्वास्थ्य एवं उनके प्रति भेदभाव न कर बेटों के समान बेटियों को सम्पूर्ण सम्मान देते हुए उनकी शिक्षा हेतु अपील की गयी तथा जनपद में जो भी बच्चियाँ पैदा हो रहीं हैं। उनको मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के अन्तर्गत आॅनलाइन आवेदन करने की जानकारी दी गयी। उक्त योजना के अन्तर्गत प्रथम जन्मी बालिका को प्रथम श्रेणी में 2000/- रूपये, द्वितीय श्रेणी में एक वर्ष के पश्चात सम्पूर्ण टीकाकरण होने के बाद 1000/- रूपये, तृतीय श्रेणी में कक्षा-1 में प्रवेश लेने वाली बालिका को 2000/- रूपये, चतुर्थ श्रेणी कक्षा-6 में प्रेवश लेने वाली बालिका को 2000/- रूपये, पाॅचवीं श्रेणी कक्षा-9 में प्रवेश लेने वाली बालिका को 3000/- रूपये एवं 10वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के पश्चात दो वर्षीय से अधिक डिप्लोमा अथवा 12वीं के बाद स्नातक, उच्च शिक्षण संस्थान में प्रवेश लेने वाली बालिका को उक्त योजना के अन्तर्गत 5000/- रूपये की धनराशि एक मुश्त सीधे उनके खाते हस्तानान्तरित करने का प्राविधान है।
इस अवसर मुख्य चिकित्सा अधीक्षक जिला महिला चिकित्सालय वी0के0 सोनकर, महिला कल्याण अधिकारी रेखा गुप्ता, बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष सुमन खरे, सदस्य एवं जिला चिकित्सालय व प्रोबेशन कार्यालय के अन्य कर्मचारीगण मौजूद रहे।।

Related posts

कोरोना वेक्सीन के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए उपजिलाधिकारी ने धर्म गुरुओं के साथ की बैठक।

aajtakmedia

शीतलहर से राहत दिलाने के लिए वृद्ध को बांटे कंबल

नगर पंचायत कदौरा ने नवनिर्मित दुकानों की नीलामी।

aajtakmedia

Leave a Comment